रोहित की जन्मकुंडली में मांगलिक योग था परन्तु उसने ऐसी लड़की से विवाह किया जिसकी कुंडली में मांगलिक दोष दुगुने से भी ज्यादा था | अधिकतर लोगों को इस योग की तीव्रता का ज्ञान नहीं होता और वे केवल मंगल और शनि के आधार पर मांगलिक दोष का मूल्यांकन करके कुंडली मिलान कर देते हैं |

इस तरह के कुंडली मिलान से न केवल रिश्तों में तनाव पैदा होता है बल्कि बात कभी कभी कोर्ट कचहरी तक पहुँच जाती है |

दहेज़ के केस में फंसे रोहित श्रीवास्तव को बकरी का मेमना आजाद करवाने के लिए कहा गया था | यह उपाय करने के कुछ ही दिन बाद ससुराल वालों की मैं मैं बंद हो गई और जहाँ तलाक होने में काफी मशक्क्त आ रही थी वह भी जायज लेन देन के बाद दूर हो गई |

 

Get 2 Minute Prediction

 

Verification


Leave a Reply