अम्बाला के राजीव महाजन की समस्या थी कि उनकी पत्नी और उनके घरवालों का आपस में बहुत झगड़ा होता था | इस पर पत्नी का पक्ष न लेकर अपने घर वालों का पक्ष उन्होंने लिया और अंत में बात तलाक तक पहुँच गई | जन्मकुंडली देखने पर पता चला कि संजीव जी आंशिक मांगलिक हैं | उन्हें मैंने सुझाव दिया कि अपने बेडरूम में हरे रंग का बल्ब जो हमेशा जलता रहे दक्षिण पूर्व में लगायें और एक तिकोना मूंगा स्वयं पहन लें |

भैरों देवता को हर शनिवार शराब अर्पित करें | आज एक साल बाद की स्थिति यह है कि संजीव जी और उनकी पत्नी को गुस्सा कम आता है जिससे घर का वातावरण शांत है | आंशिक मांगलिक दोष के लिए तिकोना मूंगा पहन लेने के बाद जो दवाइयाँ घर में परमानेंट प्रयुक्त होती थी वो भी कम हो गई हैं और घर की अशांति की रही सही कसर शराब के दान से दूर हो गई है |

Get 2 Minute Prediction

 

Verification


Leave a Reply